INDIA का फुल फॉर्म क्या है?

0
India Ka Full Form Kya Hai

क्या आप जानते है, India का फुल फॉर्म क्या है? आपको बता दे, की इंडिया का कोई भी फुल फॉर्म नहीं है। हालाकिं इंटरनेट पर कई तरह की फुल फॉर्म इंडिया के बारे में दी गयी है, लेकिन आधिकारिक तोर पर India का कोई भी फुल फॉर्म नहीं है। लेकिन जो भी फुल फॉर्म इंडिया और भारत की है, वो हम आपको इस लेख में बताने वाले है। लेकिन आपको बता दें, की इंडिया को कई नामों से जाना जाता है, प्राचीन काल में इसे भारत को “आर्यावर्त” के नाम से भी जाना जाता था। इसके अलावा और भी भारत के कई नाम है। आपको बता दें, की भारत का नाम सिंधु नदी से लिया गया है। तो चलिए जानते है, इंडिया का फुल फॉर्म क्या है (India Full Form in Hindi)

इंडिया का फुल फॉर्म क्या है | Full Form of India in Hindi

आधिकारिक रूप से भारत के दो नाम है, हिंदी में भारत और अंग्रेजी में इंडिया (India)। भारत के भारत नाम के पीछे एक महाभारत की कहानी है। श्रीमद्भागवत महापुराण में ऐसा लिखा गया है, की भारत का नाम मनु के वंशज तथा ऋषभदेव के सबसे बड़े बेटे जो की एक प्राचीन राजा था, जिनका नाम भरत था इन्ही के नाम से इंडिया का नाम हिंदी में “भारत” पड़ा। लेकिन एक व्युत्पत्ति के अनुसार ऐसा भी माना जाता है, की भारत शब्द का मतलब आन्तरिक प्रकाश या विदेक-रूपी प्रकाश में लीन होना होता है।

अगर हम बात करें, भारत का इंडिया नाम कैसे पड़ा तो आपको बता दें, इंडिया शब्द सिंधु नदी से लिया गया है, सिंधु नदी का अंग्रेजी नाम “इंडस” है, इस शब्द को यूनानियों ने सिंधु नदी के दूसरी तरफ देश को इंडोई के रूप में संदर्भित किया था, जिससे भारत का नाम India पड़ा। इसके अलावा भारत का तीसरा नाम हिन्दुस्तान अरब और ईरान में प्रचलित हुआ था, जिसका अर्थ होता है, हिन्द की भूमि।

भारत दक्षिण एशिया में स्तिथ भौगोलिक दृष्टि से विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश है। और वही अगर हम भारत को जनसँख्या के अनुसार देखें, तो भारत जनसँख्या के अनुसार विश्व का चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा देश है। भारत की सीमा कई देशो से मिलती है, जिसमे उत्तर-पूर्व में चीन, नेपाल और भूटान, पश्चिम में पाकिस्तान, पूर्व में बांग्लादेश और म्यान्मार देश शामिल है। अगर हम भारत की समुंद्री सीमा की बात करें, तो यह हिन्द महासागर में दक्षिण में श्रीलंका, दक्षिण-पूर्व में इंडोनेशिया, और दक्षिण पश्चिम में मालदीव से लगी हुई है। भारत के उत्तर में हिमालय पर्वत स्तिथ है, और दक्षिण-पूर्व में बंगाल की खाड़ी, दक्षिण में हिन्द महासागर तथा पश्चिम में अरब सागर स्तिथ है।

अगर हम भारत के इतिहास की बात करें, तो आधुनिक मानव जिन्हे हम होमो सेपियन्स भी कहते है। यह आधुनिक मानव आज से करीब 55000 हजार साल पहले अफ्रीका से भारतीय उपमहाद्वीप में आये थे। यह लोग आज से 1000 हजार साल पहले सिंधु नदी के पश्चिमी हिस्से में बसे हुए थे, जहाँ से इन्होने धीरे धीरे सिंधु घाटी की सभ्यता के रूप में विकसित हुए।

अगर हम भारत की संस्कृत भाषा की बात करें, तो यह 1200 ईसा पूर्व में समूर्ण भारतीय उममहाद्वीप में फैली हुई थी, उस समय पुरे महाद्वीप में हिन्दू धर्म का उद्धव हो चुका था। इस समय तक ऋग्वेद की रचना भी की जा चुकी थी। वही 400 ईसा पूर्व तक हिन्दू धर्म में जातिवाद होने लगा था। इस समय बौद्ध और जैन धर्म की उत्पत्ति भी हो रही थी। शुरूआती राजनीति में गंगा बेसिन में स्तिथ मौर्य और गप्त साम्राज्यों को जन्म दिया दिया था। यह इसी लेख में थोड़ा सा भारत का इतिहास था। अब जानते है, की इंडिया का फुल फॉर्म क्या है।

जैसा की आपको ऊपर के लेख में पहले ही बताया गया है, की आधिकारिक रूप से भारत की कोई भी फुल फॉर्म नहीं है। लेकिन गूगल पर सबसे ज्यादा इंडिया का फुल फॉर्म जो देखने को मिलती है, वह इस प्रकार है –

  • I – Independent
  • N – Nation
  • D – Declared
  • I – In
  • A – August

India Full Form

  • I – Independent
  • N – National
  • D – Democratic
  • I – Intelligent
  • A – Area

भारत (India) के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां

भारत के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां  
हिंदी नाम भारत गणराज्य
अंग्रेजी नाम Republic of India
राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा
राष्ट्रीय प्रतिक अशोक चिह्न
राष्ट्रीय वाक्य सत्यमेव जयते
राष्ट्रगान  जन गण मन (संस्कृत)
राष्ट्र गीत वन्दे मातरम्
राजधानी नई दिल्ली
सबसे बड़ा नगर मुम्बई
राजभाषा हिन्दी, अंग्रेजी
निवासी भारतीय
सरकार संघीय संसदीय, संवैधानिक गणराज्य
राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (भाजपा)
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (भाजपा)
भारत के मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमना

INDIA का पूरा नाम 

India का पूरा नाम हिंदी में भारत गणराज्य है, और अंग्रेजी में इंडिया का पूरा नाम “The Republic of India” है। संविधान के अनुसार भारत एक ऐसा गणराज्य देश है, जहाँ पर सभी राज्यों की सरकार केंद्र सरकार के नेतृत्व में कार्य करती है। साथ ही भारत एशिया महाद्वीप के दक्षिणी भाग में क्षेत्रफल के अनुसार दुनिया का सातवां सबसे बड़ा देश है। वही अगर हम भारत को जनसँख्या के अनुसार देखे तो यह दुनिया में जनसँख्या के अनुसार दूसरे नंबर पर आता है।

भारत के अन्य नाम कौन-कौन से हैं

भारत के अन्य नाम कौन से है, या भारत कितने नामो से जाना जाता है। यह एक बहुत ही सामान्य प्रश्न है, जो की गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च किया जाता है। आपको बता दें, की भारत प्रतियेक युग में अलग अलग नामो से जाना जाता रहा है। भारत के कुछ नाम और उनके बारे में आपको निचे बताया जा रहे है। तो आइये जानते है, भारत के अन्य नाम –

1. भारतवर्ष / Bharatam

भारतवर्ष शब्द का उपयोग सबसे पहले विष्णु पुराण में किया गया है, जिसे वरुम देश के रूप में लिखा गया था, जिसमे बताया गया था, की यह समुद्र के उत्तर में स्थित है। और दक्षिण में भारतम के नाम से जाना जाता था। भारतम में भरत के वंशज रहते है, साथ ही भारत को पौराणिक वैदिक युग के भरत के रूप में भी संदर्भित किया गया है।

2. Jambudvipa

जम्बूद्वीप का नाम तो आपने कई बार सुना होगा। अगर आपने रामायण देखी है, तो उस समय भी भारत को जम्बूद्वीप के नाम से जाना जाता था। लवकुश के द्वारा गाया गया एक भजन जिसमे वह राम के बारे में बताते है जो की इस प्रकार है “जम्बुद्विपे, भरत खंडे, आर्यावर्ते, भारतवर्षे, एक नगरी है विख्यात अयोध्या नाम की, यही जन्मभूमि है, परम पूज्य श्री राम की” जिसमे भारत को जम्बूद्वीप के नाम से पुकारा गया है। जम्बू का अर्थ होता है, “जम्बू वृक्षों की भूमि”

3. Aryavrata / द्रविड़

आर्यव्रत नाम उत्तर भारत के लिए संदर्भित किया गया है। मनु स्मृति में आर्यव्रत को हिमालय के बिच के मार्ग से लेकर अरब सागर तक बताया गया है। जिसमे पूर्व में बंगाल की खाड़ी और पश्चिमी सागर अरब सागर शामिल है। दूसरी और दक्षिण भारत को उस समय द्रविड़ के नाम से जाना जाता था, इस क्षेत्र में वर्तमान समय के कुछ राज्य थे, जिनमे तेलंगाना, छत्तिश्गढ़, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल और छत्तीसगढ़ का एक छोटा हिस्सा शामिल थे। इसके अलावा द्रविड़ क्षेत्र में लक्षद्वीप, पुदुचेरी, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह जो की वर्तमान में केंद्रशासित प्रदेश है, यह भी शामिल थे।

4. Bharata

भारत भारत का आधिकारिक नाम है। भारत का नाम मनु के वंशज तथा ऋषभदेव के सबसे बड़े बेटे जो की एक प्राचीन राजा था, जिसका नाम भरत था, इसी के नाम पर भारत का नाम भारत पड़ा।

5. Hind

भारत का हिन्द नाम फ़ारसी भाषा के सिंध से निकला है। कई इतिहासकारों के अनुसार ऐसा माना जाता है, की सिंध के लिए सिंध को ठीक से नहीं बोल पाते थे, वह लोग “एस” की जगह “एच” ध्वनि का उपयोग करते है, जिसके अनुसार यह सिंध से हिन्द हो गया।

6. Nabhivarsha

जैन धर्म के अनुसार इनके ग्रंथो में नाभि भारत देश को कहा गया है। नाभि पहले जैन तीर्थकर के पिता और एक चक्रवर्ती राजा थे, लेकिन अगर हम हिन्दू ग्रंथो के अनुसार बात करें, तो हिन्दू ग्रंथो में नाभि को “ब्रह्मा की नाभि” माना गया है।

7. Hindustan

हिन्दुस्तान का अर्थ हिन्द की भूमि है, 11 वीं शताब्दी में मुस्लिम विजेता भारत को हिन्दुस्तान बोलते थे।

8. Al-Hind

भारत को अरबी के अनुसार अल-हिंद के नाम से भी जाना जाता है, हालाकिं कुछ अरबी किताबो में भारत को अल-हिंद के नाम से संदर्भित भी किया गया है।

9. Tianzhu

तियान्झू एक चीनी शब्द है, इसके अलावा इतिहास में भारत को चीन के लोग तियान्झू के नाम से जानते थे। इस शब्द का उच्चारण हिन्दू शब्द से ही हुआ है।

10. Tenjiku

तेनजीकू भी एक चीनी शब्द है, इसे भी भारत का चीनी नाम के लिए उपयोग किया जाता है।

11. Cheonchuk

चोनचुक एक कोरियाई शब्द है, इसके अलावा यह भारत का ऐतिहासिक कोरियन नाम भी है, इसका उपयोग भी चीनी शब्द तियानझू (xien-t’juk) की तरह ही किया जाता है।

12. Yintejia

युकतेजिया चीनी राजवंश के अभिलेखों में पाया जाने वाला एक नाम है, इन अभिलोके के अनुसार यह भारत का एक ऐतिहासिक नाम है।

13. Yindu

Yindu शब्द को हिन्दू या सिंधु से लिया गया है, जो की भारत के लिए वर्तमान समय का चीनी शब्द है।

14. Shendu

शेंदु संभवतः “सिंधु” शब्द का एक विरूपण है, जिसे “द सेवेन के रिकॉर्ड्स में” में भारत के लिए संदर्भित किया गया है। जिसका अर्थ है, की सिमा कियान की शिजी, “द सेवेन के रिकॉर्ड्स” में शेंदु शब्द को भारत के रूप में दर्शाया गया है।

15. Wutianzhu

चीन में भारत को वूटियान्झु के नाम से भी जाना जाता था, जिसका अर्थ होता है, “पांच भारत” ऐसा इसलिए क्योकिं भारत को पाँच प्रमुख क्षेत्रों में विभाजित किया जा सकता है। जिसमे मध्य, पूर्वी, पश्चिमी, उत्तरी और दक्षिणी भारत हिस्से बनेगे।

16. Indo

इंडो भारत का वर्तमान जापानी नाम है।

17. भारत

भारत नाम वर्तमान समय में है, यह नाम सिंधु नदी के नाम से लिया गया था, भारत नाम का उपयोग ग्रीक में हेरोडस ने 400 ईसा पूर्व में किया था।

18. सोने की चिड़िया

एक समय पर भारत को सोने की चिड़िया के नाम से भी जाना जाता है, यह समय वह था, जब भारत पूरी तरह से एक समृद्ध देश था।

19. Indika / इंडिका

भारत का इंडिका नाम मेगस्थनीज ने दिया था, मेगस्थनीज प्राचीन यूनानी इतिहासकार थे। जिन्होंने अपनी एक रचना इंडिका मौर्य साम्राज्य में भारत के बारे में लिखा है।

भारत के नाम से जुड़े कुछ अक्षर पूछे जाने वाले प्रश्न –

भारत को भारतवर्ष क्यों कहा जाता है?

भारत का भारतवर्ष नाम ऋषभदेव के पुत्र भरत के नाम पर पड़ा था। कई हिन्दू पुराणों के अनुसार नाभिराज के पुत्र भगवान ऋषभदेव के पुत्र भरत के नाम पर भारत देश का नाम भारतवर्ष पड़ा था।

प्राचीन काल में भारत को किस नाम से जाना जाता था?

प्राचीन काल में भारत को कई अन्य नामो से जाना जाता था, जिनमे भारतखण्ड, हिमवर्ष, आर्यावर्त, हिन्द, हिन्दुस्तान, और जम्बूद्वीप आदि शामिल थे।

भारत के 4 नाम कौन से हैं?

जम्बूद्वीप
भारतखण्ड
हिमवर्ष
अजनाभवर्ष

भारत के 5 नाम कौन कौन से हैं?

हिन्द
हिन्दुस्तान
इंडिया
भारतवर्ष
आर्यावर्त

भारत के 10 नाम कौन से हैं?

जम्बूद्वीप
भारतखण्ड
हिमवर्ष
अजनाभवर्ष
हिन्द
हिन्दुस्तान
इंडिया
भारतवर्ष
आर्यावर्त
सोने की चिड़िया

Note – इस लेख में आपको INDIA का फुल फॉर्म क्या है? इसके बारे में बताया गया है। इसके अलावा इस लेख में भारत के सभी नामों के बारे में आपको विस्तार से बताया गया है। अगर आपका इस लेख से सम्बंधित कोई भी सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा, तो कृपया इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here