Wi Fi Full Form | Wi Fi का फुल फॉर्म क्या है

Wi Fi ka full form kya hai

आज हम Wi Fi Full Form के बारे में जानेगे। वर्तमान समय में सभी लोग Computer और मोबाइल का उपयोग करते है। लेकिन अगर हमें एक अच्छे इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता हो, तो हम वाई-फाई कनेक्शन को ढूंढते है। क्योकिं वाई-फाई का नेटवर्क अन्य नेटवर्क की अपेक्षा ज्यादा फ़ास्ट होता है। लेकिन कई लोगो को आज भी Wifi Ka Full Form नहीं पता होगा।

तो आज हम इससे सम्बंधित सभी जानकारी को विस्तार से जानेगे। जिसमे हम वाई-फाई को Networking में कैसे उपयोग किया जाता है। इसके अलावा और भी बहुत कुछ जानकारियों को हम इस लेख में पढ़ेंगे। मुझे पूरी उम्मीद है, की अगर आप इस लेख को पूरा पढ़ेंगे, तो आपको किसी और पोस्ट को पढ़ने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। तो आइये जानते है, इससे जुड़ी सभी जानकारी और वाई फाई का पूरा नाम क्या है?

Wi Fi Full Form in Hindi वाई-फाई का फुल फॉर्म क्या है?

Wi Fi का फुल फॉर्म “Wireless Fidelity” होता है। वाई- फाई एक प्रकार का Wireless Local Area Network (WLAN) है। यह नेटवर्क रेडियों तरंगो द्वारा चलता है, जिस तरह से मोबाइल के नेटवर्क चलते है। इसका उपयोग करने के लिए कम्प्यूटर में एक वायरलेस अडैप्टर लगाया जाता है।

जो की वाई- फाई के सिग्नल को डिकोड करता है। यह मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर और टैबलेट जैसे यंत्रो में ऑनलाइन संचार की व्यवस्था प्राप्त करता है। आप अपने किसी भी कंप्यूटर में वाई – फाई को कनेक्ट करके इंटरनेट का उपयोग कर सकते है। कुछ लोगो का यह सवाल भी रहता है, की वाई फाई को हिंदी में क्या कहते है? आपको बता दें की वाई फाई को हिंदी में “वायरलेस स्थानीय क्षेत्र तंत्र” है।

Note – सभी लोगो के मन में एक धारणा रहती है, की वाई फाई का फुल फॉर्म क्या है? यह एक ग़लतफ़हमी है। वाई-फाई वास्तव में एक IEEE 802.11x शब्द का ट्रेडमार्क है। हालाँकि कई लोग वाई फाई को वायरलेस फ़िडेलिटी के नाम से जानते है, लेकिन वास्तम में इसका कोई पूरा नाम नहीं है।

Wi Fi का आविष्कार किसने किया

वाईफाई का अविष्कार का जनक Dr. John O Sullivan को माना जाता है। Dr. John O Sullivan और उनके साथ मौजूद उनकी टीम ने वाई फाई का अविष्कार सन 1991 में किया था। Dr. John O Sullivan का जन्म ऑस्ट्रेलिया में हुआ था, इन्होने अपनी पढ़ाई सिडनी विश्वविद्यालय से की थी। इसके अलावा कुछ लोगो का का यह सवाल रहता है, की वाईफाई का अविष्कार किस देश में हुआ था? आपको बता दें की Dr. John O Sullivan ने इस क्रांतिकारी वाईफाई का अविष्कार नीदरलैंड में किया था।

वाई-फ़ाई क्या है What is WiFi in Hindi

वाई-फ़ाई क्या है? वाई-फ़ाई रेडियों तरंगो द्वारा काम करने वाली एक तकनीक है, जो की अपने एक्सेस पॉइंट के आस पास मौजूद उपकरण जैसे मोबाइल, लैपटॉप और कंप्यूटर में इंटरनेट सेवा प्रदान करने में सहायक होती है। इसकी सबसे ख़ास और महत्वपूर्ण वजह यह है, की यह अन्य नेटवर्क की अपेक्षा ज्यादा तेज गति प्रदान करती है। अगर आप अपनी वाई-फ़ाई का कनेक्शन किसी फ़ोन या लैपटॉप में बिना किसी तर की सहायता से जोड़ना चाहते है, तो इसके लिए आपको एक वायरलेस राऊटर की आवश्यकता होती है। जिसकी मदद से आप बहुत आसानी से अपने स्मार्टफोन को वाई-फ़ाई से जोड़ सकते है। और तेज स्पीड के इंटरनेट का आनंद ले सकते है।

Wifi कितने प्रकार का होता हैं Types of Wifi in Hindi 

वाई फाई मुख्य रूप से चार प्रकार की होती है, जो की इस प्रकार है –

  1. Wireless Personal Area Networks (WPAN)
  2. Wireless Metropolitan Area Networks (WMAN)
  3. Wireless Local Area Networks (WLAN)
  4. Wireless Wide Area Networks (WWAN)

वाईफाई के फायदे Advantage of WiFi

  • वाईफाई का उपयोग करने के लिए आपको अपने स्मार्टफोन में किसी भी तरह की तार को कनेक्ट नहीं करना पड़ता है।
  • वाईफाई आपको अन्य दूसरे सभी नेटवर्क की अपेक्षा ज्यादा तेज इंटरनेट स्पीड प्रदान करता है।
  • अगर किसी भी वजह से आपके फ़ोन का डाटा ख़त्म हो गया है, तो आप जिस एरिया में हो, वहां पर किसी वाईफाई नेटवर्क को ढूंढ कर अपना कार्य कर सकते है।
  • Wi Fi को आप अपने मोबाइल या लैपटॉप में सिर्फ कुछ सेकेंड में ही कनेक्ट कर सकते है।
  • वर्तमान में ऐसे भी कई नेटवर्क है, जो की Wi Fi के द्वारा कालिंग की सुविधा प्रदान करा रहे है।
  • इसके अलावा आप Wi Fi से अपने फोटो वीडियो अदि, को एक दूसरे डिवाइस में आसानी के साथ ट्रांसफर कर सकते है।

वाई फाई के नुक्सान Disadvantage of WiFi

  • Wi Fi का उपयोग हम सिर्फ एक निश्चित एरिया में रहकर ही कर सकते है। अगर हम इसके एरिया से बहार जाते है, तो नेटवर्क डिसकनेक्ट हो जाते है।
  • Wi Fi की सिक्योरिटी बहुत कमजोर होती है। इसके आसानी से थोड़ा जा सकता है। लेकिन आपको अपनी Wi Fi का पासवर्ड स्ट्रांग रखना चाहिए।
  • वाई फाई के अलग अलग प्रकार होते है। अगर आपके पास सिंगल यूजर Wi Fi है, तो उसमे आप की डिवाइस को एक साथ जोड़ देते है, तो इसकी स्पीड कम हो जाती है।

वाई फाई की पूरी जानकारी वीडियो में देखे

Wi Fi FAQ

वाईफाई और इंटरनेट में क्या अंतर है?

इंटरनेट एक प्रकार का डाटा है, और वाई-फाई एक वायरलेस नेटवर्क तकनीक है। जो इंटनेट देता को रेडियों तरंग द्वारा डिवाइस में भेजती है।

वाईफाई का मुख्य उद्देश्य क्या है?

वाई-फाई का मुख्य उद्देश्य यह है, की यह स्थानीय क्षेत्र नेटवर्क (LAN) को बिना केबल और तार के संचालित करता है। जिससे की घर के सभी सदस्य अपने अपने रूम से इंटरनेट को एक्सेस कर सकते है। यह कई उपकरणों में आसानी से कनेक्ट हो सकता है, जिनमे मुख्य उपकरण लेपटॉप, कंप्यूटर, टेबलेट और स्मार्टफोन शामिल है।

क्या वाईफाई चालू या बंद करना बेहतर है?

अगर आप अपने स्मार्टफोन की बैटरी को ज्यादा चलना चाहते है, तो आपको वाईफाई का उपयोग करते समय ही इसको चालू करना चाहिए। अगर आप बिना उपयोग के वाईफाई को चालू रखते है, तो इससे आपके फ़ोन की बैटरी ज्यादा खर्च होती है।

फ्री वाईफाई क्यों जरूरी है?

अगर आपके पास किसी तरह की कोई दूकान या कोई रेस्टोरेंट है, तो आपके उसमे अपने सभी ग्राहकों के लिए फ्री वाईफाई की व्यवस्था करवानी चाहिए। इससे आपके ग्राहकों की संख्या बढ़ती है। इस शोध के मुताबिक ऐसा माना गया है, की अगर आप अपने ग्राहकों को फ्री वाई फाई की सुविधा उपलब्ध करते है, तो लगभग 62 प्रतिशत ग्राहक आपके रेस्टोरेंट में रुकना पसंद करते है।

क्या पब्लिक प्लेस की फ्री वाई फाई का उपयोग करना सही है?

पब्लिक प्लेस में लगे वाई फाई ज्यादा सुरक्षित नहीं होते है। इस तरह के वाई फाई को अपने फ़ोन या अन्य डिवाइस में कनेक्ट करने से पहले एक बार सोच लेना बहुत जरुरी होता है। क्योकिं इस तरह की भीड़ भाड़ वाली जगहों पर आपके फ़ोन वाई फाई द्वारा डाटा चोरी होने का खतरा बना रहता है।

 

Note – यह लेख वाई फाई का फुल फॉर्म क्या है? इससे सम्बन्धित था। आपको यह लेख कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताएं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा, तो कृपया अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें, धन्यवाद। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here