Neet Kya Hai in Hindi

क्या आप जानते है, नीट क्या है? अगर आपने सिर्फ Neet का नाम सुना है, और आपको नहीं पता है, की Neet का मतलब क्या है? तो आज हम इस लेख में जानेगे, Neet क्या होता है? और इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां। जब हम पढ़ाई कर रहे होते है, तो हमारे मन में कई तरह के सवाल होते है, की हमें आगे चलकर क्या करना है,

जिन लोगो को Engineering करनी होती है, वह BTech करते है, जिन Student को Air Hostess बनना होता है, वह एयर लाइन का कोर्स करते है। लेकिन अगर आपको डॉक्टर बनना है, तो आपको इसके लिए Neet के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी है। क्योकिं Neet डॉक्टर बनने के लिए एक महत्वपूर्ण एग्जाम है, जिसे पास करना अनिवार्य है।

आज के समय में Medical Field में बहुत सारे Courses इन सभी कोर्स में बहुत सारे ऐसे Medical Courses भी है, जिनमे Neet Exam अनिवार्य है। Neet Exam एक बहुत ही Popular एग्जाम है, अगर आप नीट की परीक्षा पास कर लेते है, तो आपको इसके बाद आपको डॉक्टर बनने के लिए सरकारी मेडिकल कालेज मिल जाता है। जिसमे आप एमबीबीएस, या बीडीएस की पढ़ाई कर सकते है। हालाकिं कई ऐसे छात्र भी होते है, की पहली बार में ही Neet Exam पास कर लेते है, और कुछ छात्रों को थोड़ा समय लगता है।

क्योकिं नीट की परीक्षा का पैटर्न बहुत कठिन होता है। इसके लिए आपको बहुत मेहनत के साथ एक सही दिशा में पढ़ाई करने की आवश्यकता होती है। इसके बाद ही आप नीट की परीक्षा को पास कर सकते है। पूरी मेहनत और लगन के साथ आप अपनी नीट की परीक्षा को पूरा करके सफल हो जाते है, इसके बाद आपको डॉक्टर बनने के लिए एक अच्छा सरकारी मेडिकल कालेज मिलता है। तो आइये अब जानते है, की Neet क्या है –

नीट क्या है | What Is Neet in Hindi

नीट एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है, जो की NTA (National Testing Agency) के माध्यम से आयोजित कराई जाती है। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य मेडिकल कोर्स में छात्रों को प्रवेश दिलाना है। अगर आप MBBS (Bachlor of Medicine Bachlor of Surgery), BDS (Bachlor of Dental) आदि में प्रवेश लेना चाहते है, तो इसके लिए आपको Neet Exam पास करना अनिवार्य होता है।

भारत के सभी Ayush MBBS और MDS में एडमिशन Neet Exam के आधार पर ही होते है। अगर हम नीट परीक्षा की शुरूआती बात करें, तो सन 2016 में यह AIPMT (All India Pre Medical Test) के नाम से जानी जाती थी। लेकिन वर्तमान में यह AIPMT से बदलकर इसका नाम Neet कर दिया गया। आप Neet का एग्जाम 12th पास करने के बाद दे सकते है। अगर आपको अपना करियर मेडिकल लाइन में बनाना है,

तो आपको इसके लिए नीट की परीक्षा देकर ही एमबीबीएस बीडीएस, एमएस के कोर्स करने के लिए अच्छे कालेज में एड्मिशन मिलेगा। नीट एग्जाम का मुख्य उद्देश्य है, ऐसे छात्रों का चयन करना जो की मेडिकल के लिए योग्य हो। मेडिकल कोर्स करने के लिए बड़े पैमाने पर धांधली रोकने को रोकने के लिए ही Neet Exam को आयोजित किया गया था।

Neet का फुल फॉर्म क्या है?

NEET का Full Form : National Eligibility cum Entrance Test है। नीट का हिंदी में फुल फॉर्म : राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा है।

Neet Meaning in Hindi

राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (Neet) एक प्रकार की राष्ट्रीय स्तर परीक्षा है, जो की भारतीय मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस में Addmision लेने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित की जाती है।

Neet का कोर्स कितने साल का होता है?

कई छात्रों का एक सवाल है, जो की अभी 10th और 12th क्लास में पढ़ते है, की Neet का कोर्स कितने साल का होता है। आपको बता दें, की नीट कोई कोर्स नहीं है, बल्कि यह एक परीक्षा है। आप इस परीक्षा को पास करने के बाद मेडिकल क्षेत्र में जा सकते है। तो मुझे उम्मीद है, की आपको यह तो पता चल गया होगा की नीट कोई कोर्स नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली के परीक्षा है।

नीट एग्जाम कितनी बार होता है?

Neet Exam एक साल में एक बार ही आयोजित होता है, जब आप इस परीक्षा को पास कर लेते है, तो आपको सरकारी या प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है। जो छात्र कम नंबर से नीट की परीक्षा को पास नहीं कर पाते वह फिर से फार्म भरकर नीट की परीक्षा दे सकते है।

Neet Exam Ke Liye Qualification

Neet Exam के लिए कितनी Qualification होनी चाहिए, तो आपको बता दें, की नीट की परीक्षा देने के लिए आपको 10th और 12th में कम से कम 50% अंको से पास होना अनिवार्य है, इसके बाद ही आप इस परीक्षा में शामिल हो सकते है। आपको नीट की परीक्षा देने के लिए 12th में फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी के साथ इंग्लिश विषयों का होना अनिवार्य है।

नीट के लिए Age Limit क्या है?

नीट के लिए अधिकतम आयु सीमा कोई भी नहीं है। आप 12th पास करने के बाद नीट की परीक्षा दे सकते है।

Neet Exam की फीस कितनी होती है?

नीट एग्जाम की फीस सामान्य छात्रों के लिए 1500 जबकि एससी-एसटी, पीडब्ल्यूडी के लिए 800 रूपये होती है। और ओबीसी एनसीएल कैटेगरी के छात्र-छात्राओं को 1400 रुपए होती है।

नीट करने के फायदे

Neet Kya Hota Hai यह तो आपने जान ही लिया है। तो आइये अब जानते है, की नीट करने के फायदे क्या होते है –

  • नीट का फायदा यह है, की अगर आपको मेडिकल कोर्स करना है, तो बस आप नीट की परीक्षा को ही पास करना होगा।
  • पहले मेडिकल कॉलेज में एड्मिशन लेने के लये कई तरह की परीक्षाओं को पास करना पड़ता था।
  • अगर अब छात्र अपनी स्नातक की पढ़ाई मेडिकल कोर्स में करना चाहते है, तो उसके लिए उन्हें सिर्फ Neet Exam ही देना होगा।
  • पहले जो छात्र कई तरह की परीक्षाओं की तैयारी करते थे, अब वह सिर्फ नीट की परीक्षा को पास करके मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ले सकते है।

Neet की तैयारी कैसे करें?

जो छात्र नीट करना चाहते है, और वह अपनी 12th क्लास में तो उनका एक सवाल रहता है, की 12th के बाद नीट की तैयार या Preparation कैसे करें। हालाकिं अगर आप पढ़ाई अच्छे और आप आसानी से सभी प्रश्नो को समझ सकते है, तो आप घर पर ही नीट की तैयारी कर सकते है। इसके अलावा आप चाहे तो Online या Offline भी नीट की क्लास ले सकते है। तो आइये आपको नीट की तैयारी करने के बारे में कुछ तरीके बताते है, अगर आप इन्हे फॉलो करते है, तो आपको परीक्षा में बहुत ज्यादा मदद मिलेगी –

Neet की तैयारी कैसे करें?

जो छात्र नीट करना चाहते है, और वह अपनी 12th क्लास में तो उनका एक सवाल रहता है, की 12th के बाद नीट की तैयार या Preparation कैसे करें। हालाकिं अगर आप पढ़ाई अच्छे और आप आसानी से सभी प्रश्नो को समझ सकते है, तो आप घर पर ही नीट की तैयारी कर सकते है। इसके अलावा आप चाहे तो Online या Offline भी नीट की क्लास ले सकते है। तो आइये आपको नीट की तैयारी करने के बारे में कुछ तरीके बताते है, अगर आप इन्हे फॉलो करते है, तो आपको परीक्षा में बहुत ज्यादा मदद मिलेगी –

  • Neet की तैयारी करने के लिए आपको अपना बेस मजबूत करना बहुत जरुरी है। इसे लिए आपको 11th 12th में अच्छी तरह से पढ़ना होगा। अगर आप शुरुआत में ही अच्छी तरह से पढ़ते है, तो आपकी ज्यादातर तैयारी तो 12th Class में ही हो जाएगी। क्योकिं नीट में ज्यादातर प्रश्न NCERT से ही लिए जाते है।
  • जब आप 12th पास कर लेते है, तो इसके बाद आप कुछ अन्य बुक की मदद भी ले सकते है, जिससे की आपको सभी टॉपिक अच्छी तरह से समझ आ जाएँ।
  • आपको नीट परीक्षा पास करने के लिए अपने फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट को अच्छी तरह से पढ़ना चाहिए।
  • नीट की परीक्षा के लिए आपको बायोलॉजी में अच्छी जानकारी होनी चाहिए। क्योकिं जीव विज्ञान के सवाल फिजिक्स, केमिस्ट्री की तुलना में थोड़े आसान होता है।
  • परीक्षा से पहले मॉक टेस्ट जरूर करें, इसके लिए आप अपने किसी भी दोस्त की सहायता ले सकते है।
  • नीट की परीक्षा की तैयारी के दौरान अपने खाने पिने पर विशेष ध्यान दे, अगर आप अच्छा खाना पीना खाते है, तो इससे आपकी पढ़ने की शक्ति मजबूत होती है।

Neet Ka Syllabus 2022

नीट भारत की एक बहुत ही उपयोगी परीक्षा है, ऐसे में आपको इस परीक्षा के दौरान बहुत अच्छी तरह से परखा जाता है। अगर आप नीट की परीक्षा की तैयारी कर रहे है, तो आपको पहले से ही खुद को तैयार रखना चाहिए। नीट के दो सिलेबस होते है, Neet UG & PG Syllabus 2022

NEET UG & PG सिलेबस 2022

NEET Under Graduate (UG) Syllabus कुछ इस प्रकार है –

NEET के लिए केमिस्ट्री सिलेबस

ग्यारहवीं    बारहवीं
एस ब्लॉक एलिमेंट्स (अलकली और अल्कलाइन अर्थ मेटल्स) एल्डिहाइड, केटोन्स और कार्बोक्सिलिक
ऑर्गेनिक एलिमेंट्स: बेसिक प्रिंसिपल्स एंड टेक्निकल हैलोएल्केन्स एंड हैलोएरीन
सम पी ब्लॉक एलिमेंट्स पॉलिमर्स
हाइड्रोकार्बोन्स बायो मॉलिक्यूल्स,  केमेस्ट्री ऑफ एवरीडे लाइफ
हायड्रोजन एफ एंड डी ब्लॉक एलिमेंट्स
रेडॉक्स रिएक्शन एल्कोहल्स, फिनायल और ईथर्स
स्ट्रक्चर ऑफ एटम सरफेस केमेस्ट्री
स्टेट्स ऑफ मैटर: गैसेज एंड लिक्विड ऑर्गेनिक कंपाउंड कंटेनिंग नाइट्रोजन
इक्विलीब्रियम जनरल प्रोसेस एंड प्रिंसिपल्स ऑफ आइसोलेशन ऑफ एलिमेंट्स
बेसिक कोंसेप्ट ऑफ केमेस्ट्री सॉलिड स्टेट्स सोल्यूशन
केमिकल बॉंडिंग एंड मोलिक्यूलर स्ट्रक्चर केमिकल कायनेटिक्स
क्लासिफिकेशन ऑफ एलिमेंट्स एंड पीरियोडिसिटी इन प्रॉपर्टीज इलेक्ट्रो केमेस्ट्री

NEET के लिए बायोलॉजी सिलेबस

ग्यारहवीं   बारहवीं
डायवर्सिटी इन लिविंग वर्ल्ड बायोलॉजी एंड इट्स एप्लीकेशन
ह्यूमन साइकोलॉजी रिप्रोडक्शन
स्ट्रक्चर ऑर्गेनाइजेशन इन प्लांट्स एंड एनिमल्स बायोलॉजी एंड ह्यूमन वेलफेयर
प्लांट साइकोलॉजी जेनेटिक्स एंड इवोल्यूशन
सेल स्ट्रक्चर एंड फंक्शन इकोलॉजी एंड एनवायरनमेंट

NEET के लिए फिजिक्स सिलेबस

ग्यारहवीं बारहवीं
फिजिक्स वर्ल्ड एंड मेजरमेंट मैग्नेटिज्म और मैग्नेटिक इफेक्ट ऑफ गैस
ग्रेविटेशन इलेक्ट्रोस्टेटिक्स
थर्मोडायनेमिक्स एटम्स एंड न्यूक्लि
द मोशन ऑफ रिजीड बॉडीज सिस्टम पीएफ़ पार्टिक्ल्स अल्टरनेटिंग करंट एंड इलेक्ट्रोमेग्नेटिक इंडक्शन
वर्क, पॉवर एंड एनर्जी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स
काइनेटिक थ्योरी एंड बिहेवियर ऑफ परफेक्ट गैस ऑप्टिक्स
किनेमैटिक्स-प्रॉपर्टीज ऑफ बल्क मैटर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज
ऑस्किलेशएनएस एंड वेव्स रेडिएशन का ड्वेल नेचर और मैटर

Neet परीक्षा पैटर्न

नीट का एग्जाम 3 घंटे का होता है, 2016 में नीट का पेपर सिर्फ दो भाषाओँ में जारी किया जाता था जिसमे हिंदी और अंग्रेजी शामिल थी। लेकिन यह परीक्षा अलग अलग राज्यों में आयोजित होती है, जिसकी वजह से अभी नीट का पेपर तमिल, तेलुगू, बंगाली, कन्नड़, गुजरती, असमी, ओडिया, और मराठी में भी दिया जाता है। नीट के पेपर में टोटल 180 प्रश्न होते है, प्रतियेक सवाल 4 नंबर का होता है, जिसमे 180 प्रश्न आपको 720 नंबर के मिलते है। यह UG में 3 ग्रुप में होता है। अगर आप नीट एग्जाम में एक प्रश्न सही करते है, तो आपको 4 अंक मिलते है,

लेकिन अगर आपको कोई भी सवाल गलत होता है, तो उसका 1 नंबर कट जाता है। अगर आपको कोई सवाल छोड़ देते है, तो इसके लिए आपको कोई भी अंक नहीं मिलता है। नीट की परीक्षा में आपको एक प्रश्न के कई विकल्प नहीं मिलते है। अगर आप एक बार अपना सवाल कर देते है, चाहे वह गलत हो या सही उसके बाद आप उसमे किसी भी तरह का कोई बदलाब नहीं कर सकते है। एग्जाम के अंक इस तरह से जोड़े जाते है, आपके सही प्रश्नो की संख्या 0x4 – कुल गलत प्रश्नो की संख्या x (-1)

बीएससी नर्सिंग के लिए नीट जरूरी है क्या?

बीएससी नर्सिंग के लिए नीट जरुरी नहीं है, हालाकिं कुछ कालेज आपको नीट के आधार पर ही एडमिशन देते है, लेकिन कई ऐसे कालेज भी है, जो आपको बिना नीट की परीक्षा के भी एडमिशन देते है। अधिक जानकारी के लिए आप बीएससी नर्सिंग के लिए नीट जरूरी है क्या इस लेख को पूरा पढ़ें जिसमे आपको विस्तार से समझाया गया है।

नीट के बारे में अक्षर पूछे जाने वाले प्रश्न –

बिना कोचिंग के घर पर नीट की तैयारी कैसे करें?

अगर आप घर से ही नीट की तैयारी करना चाहते है, तो इसके लिए आपको सबसे पहले पुराने सभी प्रश्न पत्रों को हल करना चाहिए। इससे आपको नीट परीक्षा के पैटर्न के बारे में अच्छी तरह से पता चल जाएगा। इसके अलावा आप NCERT और कुछ दूसरी बुक की भी मदद ले सकते है।

नीट में कितने नंबर पर सरकारी कॉलेज मिलेगा?

अगर आप नीट परीक्षा पास करने के बाद सरकारी मेडिकल कालेज में एडमिशन लेना चाहते है, अनारक्षित या सामान्य श्रेणी के लिए आपको न्यूनतम 520 से 610 अंक प्राप्त करने की आवश्यकता होगी।

नीट में कितने सब्जेक्ट होते है?

नीट परीक्षा में आने वाले प्रश्न फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में बॉटनी और जूलॉजी से पूछे जाते है।

क्या नीट का पेपर हिंदी में होता है?

पहले नीट की परीक्षा हिंदी और अंग्रेजी में होती थी। लेकिन अब यह परीक्षा 9 भाषाओँ में होती है। आप फार्म भरते समय जो भाषा चुनते है, उसी भाषा का पेपर आपको मिलता है।

Note – यह लेख Neet Exam से सम्बंधित था, जिसमे आपको बताया गया है, की Neet क्या है? इसके अलावा नीट से सम्बंधित और भी कई महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में आपको इस लेख में समझाया गया है। अगर आपका इस लेख से सम्बंधित कोई भी सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा तो कृपया इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here